November 26, 2022

भारत दौरे आये ब्रिटेन के पीएम, व्यापार समझौते लेकर हो सकती है बातचीत

1 min read

रूस और यूक्रेन में तकरार ज़ारी है। इसका प्रभाव पूरी दुनिया पर पड़ रहा है। ऐसे में ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन गुरुवार को भारत की दो दिवसीय यात्रा के लिए गुजरात के अहमदाबाद पहुंचे, जिसमें भारत-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर ध्यान दिया गया, जिससे दोनों देशों के बीच मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर बातचीत को गति मिली। साथ ही प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर ध्यान दिया जायेगा, साथ ही रक्षा संबंधों को मजबूत करने पर भी ज़ोर दिया जायेगा।

भारत के पांचवें सबसे बड़े राज्य और ब्रिटेन में लगभग आधी ब्रिटिश-भारतीय आबादी के पैतृक घर गुजरात का दौरा करने वाले ब्रिटेन के पहले प्रधानमंत्री होंगे बोरिस जॉनसन। शुक्रवार की सुबह जॉनसन राष्ट्रपति भवन में एक औपचारिक स्वागत समारोह में शामिल होंगे और बाद में महात्मा गांधी की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगे।

इन सभी कार्यक्रमों के बाद बाद यूके के प्रधान मंत्री 22 अप्रैल को प्रधान मंत्री मोदी से मिलने के लिए नई दिल्ली की यात्रा करेंगे, जहां नेता यूके और भारत की रणनीतिक रक्षा, राजनयिक और आर्थिक साझेदारी पर गहन बातचीत करेंगे, जिसका उद्देश्य घनिष्ठ साझेदारी को मजबूत करना और आगे बढ़ना है।

दिल्ली में पीएम बोरिस जॉनसन विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ भी बातचीत करेंगे। उसी दोपहर करीब एक बजे दोनों पक्ष हैदराबाद हाउस में प्रेस बयान जारी करेंगे।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, जॉनसन इस साल की शुरुआत में शुरू किए गए मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) वार्ता में प्रगति को आगे बढ़ाने के लिए यात्रा का उपयोग करेंगे क्योंकि भारत के साथ एक समझौते से यूके के कुल व्यापार को 28 बिलियन तक बढ़ाने की भविष्यवाणी की गई है।

पिछले साल, जॉनसन और पीएम मोदी ने यूके-भारत व्यापक रणनीतिक साझेदारी पर सहमति व्यक्त की, जिसमें यूके में 530 मिलियन पाउंड से अधिक के निवेश की घोषणा की गई और व्यापार, स्वास्थ्य, जलवायु, रक्षा और सुरक्षा में एक गहरे द्विपक्षीय संबंध के लिए प्रतिबद्ध किया गया और हमारे लोगों को जोड़ा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.