August 9, 2022

ओवैसी के 5 में से चार विधायक भागे,बिहार में टूटी असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी

1 min read
असदुद्दीन औवैसी की पार्टी (AIMIM) को बिहार में बड़ा झटका लगा है. पार्टी के चार विधायक आज लालू प्रसाद यादव के राष्ट्रीय जनता दल में शामिल होने वाले हैं.

हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन औवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) को बिहार में बड़ा झटका लगा है. पार्टी के चार विधायक आज लालू प्रसाद यादव के राष्ट्रीय जनता दल में शामिल होने वाले हैं. आरजेडी में शामिल होने वाले विधायकों में शाहनवाज, मोहम्मद अंजार नईमी, मोहम्मद इजहार आसफी और सैयद रुकनुद्दीन शामिल हैं. बिहार विधानसभा चुनाव में एआईएमएआईएम को कुल पांच सीटों पर जीत हासिल हुई थी. चार विधायकों के साथ आरजेडी अब विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन जाएगी और उसके विधायकों की कुल संख्या 79 हो जाएगी.

इससे पहले तेजस्वी यादव ने विधानसभा के अध्यक्ष विजय सिन्हा के कमरे में एआईएमआईएम के 4 विधायकों के साथ पहुंचकर मुलाकात की. इस दौरान अख्तरुल इमान को छोड़कर एआईएमआईएम के सभी विधायक मौजूद रहे. पार्टी के जो विधायक राजद में शामिल हो रहे हैं, उनके नाम कोचाधामन सीट से विधायक मुहम्मद इजहार अस्फी, जोकीहाट से शाहनबाज आलम, बायसी से रुकनुद्दीन अहमद और बहादुरगंज के विधायक अनजार नईमी हैं.

RJD बनी सबसे बड़ी पार्टी
ओवैसी की पार्टी के चार विधायकों के शामिल होने के साथ ही राजद अब बिहार में सबसे बड़ी पार्टी बन जाएगी. इससे पहले बीजेपी ने मुकेश सहनी की पार्टी के विधायकों को अपने दल में मिलाया था. तब उसके सदस्यों की संख्या 77 पर पहुंच गई थी. लेकिन एआईएमआईएम के 4 विधायकों के शामिल होने के बाद अब विधानसभा में राजद के सदस्यों की संख्या 75 से बढ़कर 79 पर पहुंच जाएगी.

सीमांचल में लहराया था परचम
AIMIM ने बिहार के सीमांचल क्षेत्र में अपना परचम लहराया था. सीमांचल इलाके में 24 सीटें हैं. इनमें से अधिकतर सीटें मुस्लिम बहुल है जिस पर महागठबंधन के जीतने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन लोगों ने एआईएमआईएम के हक में फैसला सुनाया था. कहीं ना कहीं AIMIM के जीतने से महागठबंधन को नुकसान हुआ था. कई सीटें ऐसी भी थी जहां महागठबंधन और AIMIM के बीच वोटों का अंतर बहुत ही कम था. हालांकि अब इसकी भरपाई लगभग हो गई है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.