May 17, 2022

गोपाल गोशाला ,डिब्रूगढ़ में नार्थ इस्ट की पहली गौ एम्बुलैंस सेवा का शुभारंभ

पौराणिक काल से ही यह बात सर्वविदित है कि भारत में गौ माता का उच्च स्थान है। गौ को माता सदृश मानकर पूजा करना हमारे देश की परम्परा रही है। ऐसे में घायल और बीमार गौ को चिकित्सा हेतु स्थान्तरित करने के लिए गौ एम्बुलेंस सेवा का शुभारम्भ भारतीय लोगों की गौ के प्रति रही श्रद्धा की पुष्टि करता है।

ऊपरी असम डिब्रूगढ़ के चिरिंगचापरी स्थित श्री गोपाल गौशाला में गौ एम्बुलैंस सेवा का उद्घाटन जिला उपायुक्त विश्वजीत पेगु ने किया।

वर्ष 1901 में स्थापित श्री गोपाल गौशाला गौ रक्षार्थ के क्षेत्र में कार्यरत हैं। हाल ही में गौ चिकित्सा अस्पताल के शुरुआत के पश्चात गौ एम्बुलैंस सेवा का शुभारंभ किया गया।

नर्थ इस्ट में पहली गौ एम्बुलैंस सेवा का शुरू करने का उद्देश्य है कि रास्तों में किसी गाय के दुर्घटनाग्रस्त होने पर उसे श्री गोपाल गौशाला अस्पताल में लाने में किसी असुविधा का सामना करना न पडे़।यह एम्बुलेंस आधुनिक हाइड्रोलिक सिस्टम युक्त है और इसे अहमदाबाद से मंगाया गया है।

यह गौ एम्बुलैंस शहर के लगभग 30 किलोमीटर के भीतर दुर्घटनाग्रस्त गाय को गोपाला गोशाला में चिकित्सा उपचार हेतु आसानी से ला सकता है।

सूत्रों के हवाले से यह खबर भी उजागर की गयी है कि श्री गोपाल गौशाला की मर्मज्ञ कमिटी द्वारा गौ रक्षा के क्षेत्र में अन्य कई योजनाएं चलाई जा रही है।

त्वरित गौ सेवा हेतु गोपाल गोशाला द्वारा उठाया यह कदम न सिर्फ सराहनीय है बल्कि अनुकरणीय है। आइए हम उम्मीद करें कि हर गोशाला एम्बुलेंस से आबाद हो ताकि देश के किसी भी चौराहे या सड़क में घायल गायों के कराहने की चीख न गुंजे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.