June 30, 2022

इकोसिख संगठन का अमृतसर की 450वीं वर्षगांठ तक शहर में 450 वन लगाने की योजना, जल्द शुरु होगा अभियान

अमेरिका के एक सिख संगठन ने बुधवार को घोषणा की कि 2027 में अमृतसर की 450वीं वर्षगांठ मनाने के लिए उसकी योजना अगले पांच वर्षों के दौरान पवित्र शहर में 450 वन तैयार करने की है.‘‘इकोसिख’’ संगठन 27 जून को अमृतसर के 445 वें स्थापना दिवस पर एक अभियान शुरू करेगा ताकि उस पर्यावरणीय संकट से निपटने में मदद मिल सके जिसका सामना शहरवासी कर रहे हैं.

एक विज्ञप्ति में बताया गया है कि ‘‘इको अमृतसर 450’’ नामक यह अभियान पांच साल तक चलेगा और पर्यावरण संबंधी अपने प्रयासों में मदद के लिए यह नागरिक समाज, शैक्षणिक संस्थानों, प्रवासी समुदाय, धार्मिक और सरकारी निकायों को जोड़ेगा.

इकोसिख ने एक बयान में कहा कि हाल के वर्षों में शहर को वायु गुणवत्ता में गिरावट और भूजल संसाधनों में गिरावट का सामना करना पड़ा है. इसमें सुधार के लिए व्यवस्थित अपशिष्ट प्रबंधन और बुनियादी ढांचे की भी भारी कमी है.

संगठन के वैश्विक अध्यक्ष डॉ राजवंत सिंह ने कहा “अमृतसर में प्रतिदिन 1,00,000 से अधिक आगंतुक और तीर्थयात्री आते हैं और इसका प्रभाव आसपास के वातावरण में देखा जा सकता है. इतनी अधिक संख्या में लोगों के आने से जल और खाद्य संसाधनों पर दबाव पड़ता है, अतिरिक्त ऊर्जा का उपयोग होता है और अतिरिक्त अपशिष्ट तथा कूड़ा उत्पन्न होता है. यह सब देखते हुए प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए उपाय करना और पर्यावरण को बचाने के लिए वनों का रोपण करना बहुत महत्वपूर्ण है.’’

इकोसिख इंडिया की अध्यक्ष सुप्रीत कौर ने कहा कि हाल के वर्षों में अमृतसर शहर का हरित आवरण बहुत संकुचित हो गया है. उन्होंने कहा कि कई पेड़ काटे गए हैं और उनकी जगह दूसरे पेड़ नहीं लगाए गए हैं.

उन्होंने कहा ‘‘वन रोपण से शहर को जलवायु परिवर्तन के विनाशकारी प्रभाव से निपटने में मदद मिलेगी.’’ पिछले 38 महीनों में, इकोसिख ने गुरु नानक देव की 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में दस लाख पेड़ लगाने के अपने लक्ष्य के तहत 400 से अधिक वन लगाए हैं. इसने अमृतसर में भी कुछ वन तैयार किए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.