October 5, 2022

भूस्खलन से गंगोत्री हाइवे 15 घंटे से बंद, लगा 5 किमी लंबा जाम

1 min read
उत्तराखडं के उत्तरकाशी में हेलगुगाडा के पास गगोंत्री हाईवे पिछले 24 घटें से बंद है.हालात ये है कि पत्थर गिरने के चलते BRO(Borders roads organization) की टीम को इससे भारी मुसिबतों का सामना...

उत्तराखडं के उत्तरकाशी में हेलगुगाडा के पास गगोंत्री हाईवे पिछले 24 घटें से बंद है.हालात ये है कि पत्थर गिरने के चलते BRO(Borders roads organization)  की टीम को इससे भारी मुसिबतों का सामना करना पड़ रहा है. जिसके चलते यात्रियों कों भारी नुकसान हो रहा है.और हजारों की सख्यां मे यात्री रास्ते में फँसे हुए है.जिसके कारण खाने पीने की भी समस्या हो रही है.जाम से कई महिलओं और बच्चों भी फँसे हुए है.

उत्तरकाशी जनपद में भारी बारिश के चलते पिछले कुछ दिनों से लगातार भूस्खलन के कारण यात्रियों को काफी परेशानीयो का सामना करना पड़ रहा है. 15 घटें से माग बंद होने के चलते सड़क पर 5 किमी. लंबा जाम लगा हुआ है. BRO के अधिकारी लगातार हालात पर नज़र बनाए है. मौके पर पहुची BRO की टीम काम में जुटे हुए है. हाईवे पर पड़े पत्थरों को जेसीबी के द्वारा हटाया जा रहा है.

आवासीय मकान में दबने से महिला की मौत
आपको बता दें कि उत्तरकाशी में भारी बारिश हो रही है. बारिश की वजह से चिन्यालीसौड़ के कुमराडा गांव में एक आवासीय मकान क्षतिग्रस्त हो गया. आवासीय मकान के मलबे में दबने से एक महिला की मौत हो गई. बीते बुधवार को चिन्यालीसौड़ क्षेत्र में भारी बारिश के कारण कुमराड़ा गांव के मुंडरा नामे तोक में पत्थर से बना एक मंजिला मकान भी क्षतिग्रस्त हो गया. आवासीय मकान के मलबे में दबने से गांव की भट्टू देवी (60 साल) पत्नी जुरूलाल की मौत हो गई. आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि मलबे में दबने से एक महिला की मौत हुई है. महिला के शव को मलबे से निकाला जा रहा है. महिला के परिजनों को सरकारी मानकों के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.