August 9, 2022

बिहार में टला बड़ा रेल हादसा, दो अधिकारी निलंबित

1 min read
प्रारंभिक जांच के बाद वरीय पदाधिकारियों के द्वारा ड्यूटी पर तैनात एएसएम को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है एवं मामले की जांच की जा रही है. मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि एएसएम की गलती के बावजूद ड्राइवर की सूझबूझ से आज एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया.

बेगूसराय से एक रेल हाड़से का मामला सामने आया है. यहां पर एक ट्रेन रास्ता भूल गई. जानकारी के अनुसार, ट्रेन बरौनी से समस्तीपुर के लिए चली थी, लेकिन वह समस्तीपुर की जगह बछवारा पहुंच गई. दरअसल, गुवाहटी से जम्मूतवी जा रही 15653 अप अमरनाथ एक्सप्रेस बरौनी से चली थी. लेकिन अवसरों के लापरवाई के चलते ट्रेन गलत रूट पर चली गई जिससे एक बड़ी दुर्घटना हो सकती थी लेकिन चालक ने सूझ बूझ से मामला सुलझा दिया। इस मामले में डीआरएम ने 2 अधिकारियों को निलंबित कर दिया है.

समस्तीपुर के बजाये बछवारा जक्शन कैसे पहुची ट्रेन ?
दरहसल अमरनाथ एक्सप्रेस ट्रेन रास्ता भटक गई. एक्सप्रेस ट्रेन को समस्तीपुर जाना था, लेकिन उसे हाजीपुर की ओर भेज दिया गया. हालांकि, स्टेशन से 2 किलोमीटर आगे जाने के बाद ड्राइवर को रूट गलत लगा, तब उसने ट्रेन को रोककर स्टेशन मास्टर से बातचीत की, तो बड़ी गलती का एहसास हुआ. बताया जा रहा है कि सोनपुर रेल मंडल के बछवारा जक्शन पर कार्यरत सहायक स्टेशन मास्टर की लापरवाही से अमरनाथ एक्सप्रेस ट्रेन की दिशा बदल गई, लेकिन ट्रेन चालक की सूझ-बूझ के कारण बड़ा हादसा होते-होते बच गया.

रास्ता भटकने के बाद चालक ने ट्रेन रोक कर बछवारा के कंट्रोल रूम से संपर्क किया. स्टेशन अधीक्षक ने अपने उच्च पदाधिकारी से संपर्क कर ट्रेन को दोबारा वापस बछवारा जंक्शन पर बुलाया, जहां से समस्तीपुर के लिए रवाना किया गया. जब इस बात की खबर जब यात्रियों को लगी तो उनके बीच अफरा तफरी मच गई और तनाव का माहोल पैदा हो गया था .

एएसएम को किया गया निलंबित
प्रारंभिक जांच के बाद वरीय पदाधिकारियों के द्वारा ड्यूटी पर तैनात एएसएम को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है एवं मामले की जांच की जा रही है. मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि एएसएम की गलती के बावजूद ड्राइवर की सूझबूझ से आज एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया. ट्रेन के आगमन, वापस लौटाने और दोबारा समस्तीपुर के लिए रवाना करने में करीब 45 मिनट की देरी हुई.  मामले की जानकारी होते ही रेल के पदाधिकारी बछवारा जंक्शन पहुंचकर जांच में जुट गए हैंहालांकि इस संबंध में रेलवे पदाधिकारी फिलहाल कुछ भी कहने से बच रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.